Featured Post

Lifestyle

motivational poem in hindi

motivational poem in hindi | motivational poem for students 




motivational quotes



डर ... ..

से मत डर कुछ अलग कर

तुझे बहोत समझाएँगे की तू ना कर पाएगा |


पर तू अपना आत्मबिश्वास दिखाएगा  |

तू डर से आंख मिलाएगा |

डर से मत डर  कुछ अलग कर

डर का सामना कर ,आगे बढ़ कुछ अलग कर

जिंदगी के मोड़ पर तुझे  एक डर सताएगा

उसी दर्द का फायदा ये दर्द बिना चुके उठाएगा

तुझसे कहेगा की तू कुछ नहीं कर पाएगा |

क्या वह लिखकर देगा क्या की तू हार जाएगा |

तेरी हर कमजोरी पर ये डर घर बनाएगा  |

पर तू अपना हुनर दिखाएगा |

उसी कमजोरी को तू अपना ताकत बनाएगा |

और उसी दिन ये डर तुझसे हार जायगा |

डर का खेल निडर हो के खेल |

डर से मत डर आगे बढ़ भुला के डर |












motivational poem in hindi motivational poem in hindi Reviewed by vishal pathak on February 01, 2019 Rating: 5

1 comment:

  1. किसी ने सही खा हे कि दर के आगे ही जीत है| जिसने डर को जीत लिए समझो जीवन में सफल हो गया | आपकी इस कविता में जो सन्देश मिला है वह बहुत ही सकारात्मक और जोश दिलाने वाला है | Talented India News App

    ReplyDelete

Theme images by fpm. Powered by Blogger.