Featured Post

Lifestyle

google success story

google success story larry page biography in hindi 


नमस्कार आज के पोस्ट में हम में हम दुनिया के सबसे बड़ा सर्च इंजन गूगल के success के स्टोरी को जानंगे और गूगल के फाउंडर larry page के बारे में तो चलिए जानते है गूगल और larry page  के बारे में

Biograph Larry page
Google success story in hindi

गूगल दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है| गूगल के आ जाने के कारण life कितनी आसान हो चुकी है | हमारे मन में कोई भी सवाल हो या किसी problem का sellution ढूढ़ना हो तुरंत गूगल का सहारा लेते है गूगल आज हमे कई प्रकार की सुविधा फ्रि में उपलब्ध करवा रहा है |

गूगल का स्थापना larry page  और sargi bren  नामक दो दोस्तों ने किये थे | गूगल के founder larry page है|  larry page का जन्म 26 नवम्बर 1973 में अमेरिका के michigam  नामक शहर में हुआ था | उनके पिता का नाम cart victor page और उनके माता जी का नाम cloriya page  था | उनके माता पिता दोनों ही computer science के प्रोफेसर थे | माता पिता को computer पर काम करते देख उनको बचपन से computer से प्यार हो गया चूका था | वे ज्यादा समय कंप्यूटर के साथ ही बिताते उनको यह जननके के उत्सुकता। बानी रहती थी आखिर कोई चीज काम कैसे करती है |

दोस्तों larry page की शिक्षा की बात करे तो उनका हाई स्कुल और greduation east lansing हाई स्कुल से पूरी हुई और उनकी पोस्ट gredution stanford iniversity से हुई और उसी university से उन्होंने अपनी p.h.d कि पढ़ाई किये |

उनको अपने collage में सर्गी बेन से मुलाकात हुई और उनकी पहली मुलाकात एक गहरी दोस्ती  बदल गई उन दोनों को कम्प्यूटर से काफी लगाव था | उनकी जब भी बात होती उसमे ज्यादा बातें कंप्यूटर से सम्बंधित ही बाते  ही ज्यादा होती larry page के दिमाग में एक दिन अचानक से एक concept आया क्यों ना एक ऐसा platefrom बनाया जाय जिससे सारे वेबसाइट को एक जगह लिंक कर दिया जाय | तब larry page ने इस cancept को अपने दोस्त सर्गी बेन के समक्ष रखे सर्गी बेन को लार्री  पेज की यह concept काफी अच्छी लगी और दोनों दोस्तों ने इस concept पर काम करने का मन बना लिये| और यह दोनों दोस्तों ने अपनी p.h.d में research टॉपिक world wide web ही रखे और यह दोनों ऐसे method का खोज करने लगे जिससे सारि website एक जगह लिंक हो सके और दोनों दोस्तों ने ऐसे algorithm की खोज करने के लिये दिन रात मेहनत करने लगे और चार साल बाद वह ऐसे algorithm खोजने में कामयाब हो गये |

गूगल का पहला डोमेन नाम google.stanford.adu  था | जो आज भी stanford university की वेबसाइट पर उपलब्ध है |

गूगल को पहली आर्थिक सहायता andi verutolshim microsystem के संस्थापक के द्वारा एक लाख डालर का बितीय सहायता मिली लेकिन गूगल के लिये एक लाख डालर कम पड़ रहे थे उसको बाद दोनों दोस्तों ने अपने रिस्तेदारो और इन्वेस्टरों से दस लाख डालर का कर्ज लेकर google.inc की स्थापना किये जो बाद में जाकर google.com के रूप में बदल गया | और 4 सितम्बर 1998 को google सर्वाजनिक रूप से lunch हुआ |

और धिरे धीरे गूगल पूरी दुनिया में पॉपुलर होनेा लगा और दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन बन कर पुरे इंटर नेट पर अपनी बादशाहत कायम किया | और गूगल ने 2006 को youtube का आधीग्रहण जो दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा सर्च इंजन है जो आज गूगल का product है |

और 2009 में गूगल ने गूगल ने android aperating  system lunch किया जो आज दुनिया की आधी तिहाई फोनो पर राज कर रही है | ऐसे और भी पापूलर प्रोडक्ट गूगल के पास उपलब्ध है जैसे gmail ,google map ,google tranletter ,chrom इत्यादि |

गूगल की मुख्य कमाई के addsense  के द्वारा दिखाय गए बिज्ञापनो द्वारा होती है | आम व्यक्ति भी गूगल के साथ जुड़ कर कमाई कर सकता है |

अतः मैं आप सभी से यही कहना चाहता हु की जैसे लेरी पेज और सर्गी बेन अपने सपनो को पूरा करने के लिये कड़ी मेहनत किये वैसे आप भी अपने अपने सपनो को पूरा करने के लिये कड़ी मेहनत करे और गूगल से भी बड़ा प्रोडक्ट lunch करे |


आपका मेरे साथ  बने रहने के लिये धन्यवाद

आप को यह मेरा पोस्ट कैसा लगा निचे comment कर जरूर बताय |












google success story google success story Reviewed by vishal pathak on September 01, 2018 Rating: 5

No comments:

Theme images by fpm. Powered by Blogger.